Chalu News

  Trending
Next
Prev

Chalu News

Har Pal Ki Khabar

ब्रेकिंग न्यूज़

‘मेरा बूथ, सबसे मजबूत’ संवाद के जरिए पीएम मोदी ने First Time Voters की तरफ दिलाया कार्यकर्ताओं का ध्यान

Loksabha Election 2019: परिवारवाद की लड़ाई में बीजेपी को कैसे पहुंच रहा है फायदा

[ad_1]


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर के 15,000 स्थानों पर जुटे पार्टी कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फरेंसिंग के जरिए संवाद किया. गुरुवार को किए गए इस संवाद को दुनिया की सबसे बड़ी वीडियो कॉन्फरेंस के तौर पर देखा जा रहा है. नमो ऐप के माध्यम से किए गए इस संवाद के तहत बीजेपी की कोशिश ‘अपना बूथ सबसे मजबूत’ करने की कोशिश कर रही है. पार्टी का जोर पहले से ही इस बात पर रहा है कि अगर सभी कार्यकर्ता अपना बूथ जीतने पर ध्यान केंद्रित करें और इसमें सफलता हासिल कर लें तो फिर विरोधियों को पटखनी दी जा सकती है.

नमो ऐप के जरिए पार्टी के बूथ कार्यकर्ताओं से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज भारत आत्मविश्वास से भरा हुआ है. आज देश का हर एक नागरिक देश में योगदान देने के लिए आगे आ रहा है. नामुमकिन भी अब मुमकिन है. प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान में चल रहे आतंकवादी कैंप के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र तो नहीं किया, लेकिन, उनकी बातों से सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आत्वविश्वास की झलक दिख रही थी. उन्होंने कहा, हम सब पराक्रमी भारत के नागरिक हैं. न ये देश रुकेगा, न इस देश की तरक्की रुकेगी.’

पीएम मोदी ने चुनाव से पहले पार्टी कार्यकर्ताओं को कहा, परीक्षा की घड़ी आ गई है, इसलिए अब हमें और कोशिश करनी होगी. उन्होंने कार्यकर्ताओं में आत्मविश्वास भरने के मकसद से कहा, ‘हमें चट्टान की तरह खड़े रहना है. हमें प्रगति के नए कीर्तिमान बनाने हैं.’

सेना के मनोबल को बढ़ाने के लिए पीएम मोदी ने कहा, ‘वीर जवान हैं तो हम हैं. नए भारत का संकल्प सिद्ध होने वाला है.’ पीएम मोदी ने कहा, ‘दुश्मन देश की प्रगति रोकना चाहता है. उन्होंने कहा, इस समय देश की भावनाएं एक अलग स्तर पर हैं. देश का वीर जवान सीमा पर और सीमा के पार भी अपना पराक्रम दिखा रहा है. पूरा देश एक है और हमारे जवानों के साथ खड़ा है. दुनिया हमारी इच्छा शक्ति को देख रही है.’

उन्होंने कहा, ‘इस वैभवशाली न्यू इंडिया के निर्माण के लिए वर्तमान में देश के कोटि-कोटि जनों के विश्वास में जो मजबूती है, जो आत्म विश्वास है, उसे एक धागे में पिरोना है. जिसे हम भारत माता के चरणों में अर्पित कर सके.’

लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान होने में अभी कुछ वक्त है, जिसके पहले बीजेपी की तरफ से माइक्रो मैनजमेंट की कोशिश पहले से ही की जा रही है. इस बार 21 वीं सदी में पैदा हुए वोटर पर भी बीजेपी की नजर है. मोदी ने इस मौके पर कहा कि आज जब हम न्यू इंडिया और 21वीं सदी की बात कर रहे हैं तो इसमें फ़र्स्ट टाइम वोटर की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है. ऐसे में बूथ कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी है कि वे अपने बूथ के सभी First Time Voter से संपर्क करें.

मोदी ने बूथ कार्यकर्ताओं को संदेश दिया कि लोकतंत्र का मूलमंत्र है सत्ता और विपक्ष के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा. इसका पहला पाठ हम अपनी पार्टी के भीतर ही सीखते हैं. ऐसे में सभी बूथ कार्यकर्ताओं के बीच भी एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि मैं साफ कहता हूं कि 2014 का चुनाव देश की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए मिला जनमत था और 2019 का चुनाव भारत की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए मिलने वाला जनमत होगा.

प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉन्फिडेंस मेरे स्वाभाव का हिस्सा है. आपको बताना चाहूंगा कि मीडिया का हमारे लिए एक fixed cycle है. चुनाव से पहले मीडिया कहती है कि बीजेपी के लिए यह चुनौती है. लेकिन हमें भी मीडिया को कोसने से ज्यादा इसे चुनौती के रुप में स्वीकार करना चाहिए.

[ad_2]

Source link

Print Friendly, PDF & Email

शेयर करे

Related Posts