Chalu News

  Trending
Next
Prev

Chalu News

Har Pal Ki Khabar

ब्रेकिंग न्यूज़

अखिलेश यादव को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जाने से रोकने पर ममता और चंद्रबाबू का पलटवार

देश में विपक्ष के दो गठबंधन, एक राहुल वाला और दूसरे के पास कोई नेता नहीं- अमित शाह

[ad_1]


समाजवादी पार्टी (SP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर अचानक ही प्रशासन द्वारा प्रयागराज जाने से रोक लिए जाने की खबर सामने आने के बाद सभी राजनीतिक दल इसके विरोध में उतर आए हैं. अखिलेश यादव छात्र संघ के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रयागराज जा रहे थे. एयरपोर्ट पहुंचने के बाद उन्हें रोक दिया गया.

इसके विरोध में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और चंद्रबाबू नायडू सामने आए हैं. ममता बनर्जी ने यूपी सरकार के इस फैसले की कड़ी निंदा की और कहा- ‘अगर योगी राज में एक पूर्व मुख्यमंत्री को किसी कॉलेज के प्रोग्राम में हिस्सा लेने से रोक दिया जाता है तो वहां ‘रुकावट’ है. ‘रुकावट के लिए खेद है’… आज देश में ऐसी हालत हो गई है कि लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जाने की इजाजत नहीं है.’

West Bengal CM Mamata Banerjee: If under Yogi’s rule, a former Chief Minister is not allowed to attend a college event then there is ‘rukawat’. ‘Rukawat ke liye khed hai’…There is such a situation in the country today that people are not allowed to go to places. pic.twitter.com/WeJNikWojs
— ANI (@ANI) February 12, 2019

ममता बनर्जी ने गुजरात में जिग्नेश मेवानी को भी रोके जाने की बात उठाई. उन्होंने कहा- ‘गुजरात में एक यूनीवर्सिटी के कार्यक्रम में भाग लेने से जिग्नेश मेवानी को भी रोका गया था. उसे बीजेपी के गुंडों द्वारा डराया गया था और वो हमें सिखाते हैं. नफरत की राजनीति वो करते हैं. देश में इसके पहले कभी भी ऐसा नहीं हुआ था. ये दुखद है. मैं इसकी भर्त्सना करती हूं.’

WB CM Mamata Banerjee: Jignesh was also stopped from attending a University event in Gujarat. He was threatened by BJP goons & they preach to us. They indulge in hate politics. Never before was this ever done in our nation. It’s unfortunate, I condemn this. https://t.co/Y0XX5YApQo
— ANI (@ANI) February 12, 2019

वहीं आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने भी इस घटना की घोर निंदा की और कहा: ‘समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव के खिलाफ लखनऊ के अधिकारियों के व्यवहार की मैं कड़ी निंदा करता हूं. ये अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ भाजपा की असहिष्णुता का एक और उदाहरण है. वास्तव में लोकतंत्र खतरे में है.’

Andhra Pradesh Chief Minister N Chandrababu Naidu: Strongly condemn the high-handed behaviour of Lucknow authorities against Samajwadi Party leader Akhilesh Yadav. Another instance of BJP’s intolerance against its political opponents. Really democracy is in danger. (file pic) pic.twitter.com/GPuQi0HvmH
— ANI (@ANI) February 12, 2019

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था. वो इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे थे. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव को रोके जाने पर कहा है कि उनके इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जाने से अराजकता का माहौल पैदा हो सकता है. इस पर अखिलेश यादव ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने कहा ‘घबराई हुई सरकार है ये यूपी की. नौजवान इंतजार कर रहा है कि उसे कब मौका मिलेगा. अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी जी ने भी अपने यहां भोजन रखा था. ये यूपी के सीएम कैसे साधु-संत हैं. जो दूसरे साधु-संतों से नहीं मिलने देना चाहते. उनसे क्या सीखोगे- ठोको नीति, रोको नीति.’

ये भी पढ़ें:

सीएम योगी ने अखिलेश यादव को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जाने से रोका, अखिलेश ने पूछा ‘क्या है डर’

सरकार छात्रों को डरा रही है, समय आने पर जवाब देंगे: अखिलेश यादव

[ad_2]

Source link

Print Friendly, PDF & Email

शेयर करे

Related Posts